जीरो बैलेंस से खुलेगा खाता, ऑनलाइन लेन-देन पर नहीं लगेगा शुल्क…

Official launch of India’s mobile-first bank

नई दिल्ली: केन्द्रीय वित्त मंत्री, अरुण जेटली ने पेटीएम पेमेंट्स बैंक का औपचारिक उद्घाटन किया, भारत के वित्तीय सेवाओं के क्षेत्र के इतिहास में पेटीएम ने एक बड़ा मीलस्टोन स्थापित किया। इस अवसर पर पी. विजय भास्कर, भारतीय रिजर्व बैंक के पूर्व ​एक्जीक्यूटिव निदेशक, दिलीप आस्बे, नेशनल पेमेंट्स कार्पोरेशन ऑफ इंडिया के अंतरिक सीईओ, विजय शेखर शर्मा, पेटीएम की संस्थापक व सीईओ व रेणु सत्ती, पेटीएम पेमेंट्स बैंक लि. के एमडी व सीईओ भी मौजूद थे।

इस कार्यक्रम पर बात करते हुए, विजय शेखर शर्मा ने कहा, “भारत वित्तीय क्रांति के सिरे पर खड़ा है। यह लोकतंत्र और वित्तीय सेवाओं की उपलब्धता देश में हजारों नौकरियों का निर्माण करेंगी और पेटीएम इस वित्तीय सेवाओं की क्रांति का हिस्सा बनकर काफी गौरवान्वित है। पेटीएम पेमेंट्स बैंक लंबे समय तक भारी मात्रा में नौकरियां पैदा करने की दिशा में काम करेगा।”

रेणु सत्ती ने कहा, “पेटीएम पेमेंट्स बैंक भारत का सबसे बड़ा मोबाइल प्रमुख, तकनीकी चालक बैंक है। देश के हर कोने में पहुंचने की विशेषज्ञ से हम सेवाओं से वंचित और न्यूनतम सेवाएं पाने वाली आबादी को मुख्यधारा की अर्थव्यवस्था में लाने में सक्षम होंगे। हम आमजन को सबसे पारदर्शी, सुरक्षित और विश्वसनीय बैंकिंग प्रस्तुत करने की ओर स​मर्पित हैं।”

पेटीएम पेमेंट्स बैंक ऑनलाइन लेन-देन पर शून्य शुल्क और शून्य न्यूनतम बैलेंस वाला भारत का पहला असली मोबाइल प्रमुख बैंक। इस बैंक को देश में वित्तीय समावेश हासिल करने में मदद करने के लिए डिजाइन किया गया है और यह आधा अरब भारतीयों को मुख्यधारा की अर्थव्यवस्था में लाने के पेटीएम के मिशन का हिस्सा है। कंपनी ने केवाईसी के संचालनों में $500 मिलियन का निवेश करने की योजना बनाई है। यह ग्राहकों के लिए केवाईसी प्रक्रिया पूरा करने और पेमेंट्स बैंक खाते के लिए उन्हें योग्य बनाने हेतु पूरे भारत में केवाईसी केन्द्र स्थापित कर रही है।

 

Web Title: Official launch of India’s mobile-first bank with zero fee on online transactions and no minimum balance

Tags: #Paytm Payments Bank #India’s Mobile-First Bank #Paytm