धाकड़ बनो “दंगल गर्ल” जायरा वसीम…

Zaira Wasim Harassment Case In Plane

डियर जायरा वसीम,

आपके साथ जो प्लेन में हुआ वो बहुत दुखदायी था। इस घटना को सुनकर मुझे बेहद दुःख हुआ और मैं हैरान भी थी की अगर प्लेन जैसे सुरक्षित स्थान पर इस तरह का वाक्य हो सकता है तो सार्वजनिक परिवहन में क्या महिलाएं अपने आप को महफूज समझ सकती है। क्या उन महिलाओं के पास भी सोशल मीडिया की ताकत है जिनसे उन्हें न्याय मिल सके? इस प्रश्न का उत्तर मेरी समझ से तो नहीं ही है। आप इस मामले में खुशकिस्मत है की आपके इंस्टग्राम वीडियो से ही उस व्यक्ति को प्रशासन द्वारा पकड़ा गया। क्या आपको इंस्टग्राम पर वीडियो डालना ही उचित लगा क्या आप उस समय ही उस व्यक्ति से नहीं निपट सकती थी। ये सब तो आपके ऊपर निर्भर करता है की आप अपने लिए क्या सही समझती है और क्या नहीं।

मुझे इंस्टाग्राम पर आपके द्वारा पोस्ट कि गयी वीडियो देखकर वो दंगल वाली गीता याद है रही थी जो फिल्म में लड़कों की पिटाई करती है जो उन पर कुछ टिप्पणी करते है। गीता और बबिता अपने पिता को सारी बात बताती है कि कैसे और क्यों उन्होंने उन लड़कों को पीटा था। जायरा आज आप पर वो बात आई तो आपने वो कदम क्यों नहीं उठाया? क्या होता अगर वो दंगल वाली गीता, उस टाइम वीडियो बनाती तो? क्या बबीता उन लड़कों से बच पाती? क्या होता जब आप अपने साथ हो रही छेड़छाड़ का उस दंगल वाली गीता की तरह मुंहतोड़ जवाब देती और बाद में फख्र से बताती की कैसे आपने आज उस किरदार को जीवित किया?

जायरा आपने जिस लड़की का किरदार निभाया था, वो कोई आम लड़की नहीं थी, उसने कुश्ती में विश्व चैम्पियन खिताब जीता था, यहां तक की प्रैक्टिस के दौरान उसे लड़कों के साथ ही खेलना होता था। जब से जायरा आपने दंगल में गीता फोगट का किरदार निभाया है उसके बाद से आज तक आप ‘दंगल गर्ल’ के नाम से ही जानी जाती हो फिर क्यों आज आप कमजोर हो गयी? आपने आवाज़ क्यों नहीं उठाई जब वो व्यक्ति आपको छूने की कोशिश कर रहा था?

क्या होता अगर वहां सच में गीता फोगाट होती, क्या मामला तब भी वही होता? शायद नहीं। जायरा आज ना जाने कितनी और लड़कियां हैं जिनके साथ आये दिन छेड़छाड़ या उससे भी बुरा होता है पर दुनिया उन्हें नहीं देख पाती, क्योंकि उनको कोई सुनने वाला नहीं है। जायरा आपको सबने सुना, सबने उस छेड़छाड़ करने वाले को कड़ी सजा देने की मांग की है क्या ये सच में जायज़ है? अगर तुम उस वक़्त आवाज़ उठाती और उन सभी लड़कियों को दिखाती कि वक़्त पर उठायी गयी आवाज़ वीडियो बनाने से ज्यादा बेहतर है और यही एक रास्ता है जो आपको सुरक्षित रख सकता है। आपका हौसला दूसरी लड़किओं और महिलाओं को भी हौसला देता की बुरा मत सेहन करो। तैयार रहो हर पल बुरा करने वाले को मुंहतोड़ जवाब देने के लिए। बहरहाल हम कामना करते है कि देश की बेटियां और आप सुरक्षित रहें।

 

अस्वीकरण: इस आलेख में व्यक्त किए गए विचार लेखक के निजी विचार हैं। इस आलेख में दी गई किसी भी सूचना की सटीकता, संपूर्णता, व्यावहारिकता अथवा सच्चाई के प्रति न्यूज़ स्टैंडर्ड उत्तरदायी नहीं है।

संबंधित खबरें